Intermediate course compulsory subject : इंटर में व्यवथायिक कोर्स अनिवार्य विषय 2022

0
Intermediate course compulsory subject
bihar board 12th syllabus 2022

Intermediate course compulsory subject | इंटर में व्यवथायिक कोर्स अनिवार्य विषय 2022

bihar board 12th syllabus 2022:- मुजफ्फरपुर अनिवार्य विषय के रूप में इंटर में अब छात्र-छात्रों को व्यवथायिक कोर्स पढ़ना होगा। सत्र 2022-24 से इसकी शुरुआत को लेकर बिहार विद्यालय परीक्षा समीति ने  मुजफ्फरपुर समेत सभी जिले के DIO को निर्देश दिया हैं।

Intermediate course compulsory subject | कक्षा 9वीं और 10 वीं ऐच्छिक विषय के रूप में रखेंगे छात्र

कक्षा 9वीं और 10वीं में ऐच्छिक विषय के रूप में छात्र- छात्राएं व्यवथायिक कोर्स पढ़ेंगे मगर इंटर मे यह इस सत्र से अनिवार्य कर दिया गया है। बोर्ड ने व्यवथायिक कोर्स की सुची जारी करते हुए सभी जिलों के निर्देश दिया है।

38 जिलों में जॉब ट्रेंड के अनुसार अलग अलग कोर्स 

बोर्ड के अनुसार खास यह कि जॉब ट्रैंड के अनुसार 38 जिले के लिए अलग -अलग कोर्स का चयन किया गया हैं। कोरोना कल में जॉब की स्थिति और युवाओं के तनाव को देखते हुए इंटर से ही छात्रों को किसी ना किया व्यवथायिक कोर्स से जोड़ने को लेकर पहल की गई हैं। इसके साथ ही नई शिक्षा नीति के तहत इस सत्र से इसकी शुरुआत कर दी गई हैं। बोर्ड ने निर्देश दिया है कि राज्य के स्कूलों के लिए चिन्हित ट्रेडो के अनुसार सुरक्षा, ब्यूटिशियन, टूरिज्म, रिटेल मैनेजमेंट, ऑटोमोबाईल कोर्स बच्चे पढ़ेंगे। 

Intermediate course compulsory subject | अलग से तैयार किया गया है पाठ्क्रम

चयनित ट्रेडों के लिए अलग से भोपाल व्यवथायिक शिक्षा संसथान के माध्यम से पाठ्क्रम तैयार किया जाता हैं जिलों के संबंधित चीजें उपलब्ध कराई जा रही हैं। बोर्ड के शैक्षणिक निदेशक ने गाइडलाइन जारी की हैं।  

100 अंको की परीक्षा में 30 अंक ही थ्योरी पर| Intermediate course compulsory subject|

DIO अब्दुस सलाम अंसारी ने बताया कि 100 अंकों के लिए इसमें परीक्षा होगी। 30 अंक थ्योरी व 50 अंक का प्रैक्टिकल होगा। इसके साथ ही 20 अंक वोकेशनल शिक्षक के द्वारा दिया जायेगा। 

bihar board 12th syllabus 2022|अभी व्यवथायिक कोर्स में 100 बच्चे भी नहीं|

जिले में पहले से छह राजकीय स्कूलों में इंटर में व्यवथायिक कोर्स चलाने को लेकर अलग -अलग ट्रेड दिया गया है मगर स्थिति यह हैं कि इंटर की परीक्षा में हर साल इन स्कूलों में मिलकर 100 बच्चे भी नहीं होते हैं 2022 की इंटर की परीक्षा 80, 2021 में 86 बच्चे शामिल हुए थे। एक स्कूल में 4 से 5 ट्रेड है जिसमे 25 -25 बच्चों के नामांकन की  सीट निर्धारित हैं। 

हमेशा अपडेट के लिए हमरा ग्रुप ज्वाइन करें।

इसे भी पढ़े:- बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट रिजल्ट 2022 कब आयेगा जाने?

इसे भी पढ़े:- बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट 2022 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here