Kcc Kya Hai | Kisan Credit Card कैसे मिलेगा, किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ 2022 ll pm kisan credit card

2
KCC
KCC

क्या हैं किसान क्रेडिट कार्ड (Kcc Kya Hai) योजना?

Kisan Credit Card :- भारत देश में किसानो की आर्थिक हालत काफी दयनीय है।ज्यादातर  निम्न वर्ग व गरीब किसान बहुत ही बुरी दशा में है। इसी को ध्यान में रखते हुए ,केंद्र सरकार द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड योजना को को शुरू करने का ऐलान किया गया है। जिसके माध्यम से गरीब व निम्न वर्ग के किसानो को कम ब्याज दर पर ऋण प्रदान किया जा सके है। जिसकी सहायता से किसान खेती में प्रयुक्त होने वाले उन्नत किस्म के औजार व बीज को आसानी से इस्तेमाल कर सके। इस लेख(पोस्ट) में हम आप को किसान क्रेडिट कार्ड योजना (KCC- Farmer Credit Card Scheme) से सम्बंधित सभी महतपूर्ण जानकारी साझा कर रहा हूँ।

इसे भी पढ़े :- शेयर बाजार क्या है और शेयर बाजार में निवेश कैसे करें

(KCC) KIsan credit Card
KIsan credit Card

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card), भारत सरकार द्वारा शुरू की गयी एक स्कीम है। भारत एक कृषि प्रधान देश है व एक किसान के बीज बोने से ले कर फसल जोतने व बाज़ार में बेचने तक कई जरूरतें होती हैं। इस दौरान किसानों को अलग-अलग समय पर आर्थिक सहायता (financial aid) की जरूरत होती है। किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) योजना के शुरुवात  होने से पहले इन सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए अगर किसानों को किसी आर्थिक सहायता की जरूरत होती थी, तो वह लोन लेने के लिए जमींदारों व अन्य अनौपचारिक क्षेत्रों पर निर्भर थे। इन क्षेत्रों से लोन लेने का सबसे बड़ा नुक्सान तो यह होता है की इनकी ब्याज दरें बहुत ज़्यादा होती हैं व बहुत बार आपको जरूरत के समय लोन मिलता भी नहीं।

इसे भी पढ़े :- ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए | how to earn money online without investment | online paisa kaise kamaye

किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) स्कीम की शुरुआत कब की गई थी?

किसानो की सभी समस्याओ को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने अगस्त 1998 में  किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) योजना की शुरुआत की गई।

KCC की शुरुआत भारत सरकार ने इसलिए की थी ताकि किसान के  खेती में काम आने वाला सामान जैसे बीज, उर्वरक, कीटनाशक आदि खरीद सकें व खेती से जुड़े खर्चों के लिए पैसा निकाल सकें। 2004 में इस योजना को किसानों की कृषि सम्बन्धी और गैर-कृषि (non-farming) कार्यों में निवेश के लिए लोन की आवश्यकता पूरी करने के लिए आगे बढ़ाया गया।

 फिर से इस योजना को सरल बनाने के लिए 2014 में  बैंकों द्वारा ग्राहकों को इलेक्ट्रॉनिक किसान क्रेडिट(kcc) कार्ड प्रदान कराना शुरू किया गया।

क्या है किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) का उद्देश्य? Objectives of KCC

(KCC) Kisan credit Card
KIsan credit Card

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) स्कीम का उद्देश्य, समय पर व पर्याप्त रूप से बैंकिंग सिस्टम द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता (financial aid) प्रदान कराना है। जिससे वह सरल तरीके से अपनी खेती व अन्य जरूरतों को पूरा कर सकें। किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) स्कीम के अंतर्गत आपको लोन मिलता हैं जिसको आप इन सभी जरूरतों पूरा करने के लिए ले सकते हैं:

  • फ़सल कटाई के बाद का खर्च
  • किसानों के घर खर्च के लिए
  • कृषि यंत्र  की खरीदारी
  • कृषि और  कृषि सम्बन्धी,यंत्र और अन्य कार्यों में निवेश के लिए (जैसे ज़मीन की खरीद इत्यादि )

नोट : ऊपर बताये गए पहले चार ऑप्शन में दिए कार्यों के लिए आपको कम  समय के लिए (short term loan) मिलता है। और ऑप्शन पाँच में बताये गए लोन आपको लम्बी अवधी के लिए (long term loan) मिलता है।

इसे भी पढ़े :- डीमैट अकाउंट क्या होता है || Demat Account Kya Hai

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए ज़रूरी कागज़ाद? Necessary Documents for KCC

(KCC) KIsan credit Card
(KCC) KIsan credit Card

भारतीय रिज़र्व बैंक के अनुसार यह लोन देने वाले बैंक पर निर्भर करता है कि वह किसान क्रेडिट कार्ड देने के लिए कौनसे कागज़ाद ज़रूरी समझता है व मांगता है। हर बैंक कि अलग-अलग कागजो की माँग  करते हैं।  मगर बेसिक कागज सभी का एक ही होता हैं।
नीचे बताई गई सूचि में वह सभी जरुरिआत कागजातों का नाम  है जो बैंक आपसे Kisan Credit Cardलोन देने के लिए मांग सकता है:

  • आपके द्वारा भर कर हस्ताक्षर  किया हुआ आवेदन फॉर्म, जिसपे सभी जानकारी सही सही भरा हुआ हो।
  • वोटर आई डी कार्ड ,आधार कार्ड, वोटर आइडी, ड्राइविंग लाइसेंस आदि कि कॉपी,
  • पते  दास्तवेज़ जैसे आधार कार्ड, वोटर आई डी कार्ड ,पासपोर्ट, बिजली बिल या पानी का बिल आदि कि कॉपी,
  • आपका हाल का ही खींचा गया पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ,
  • LPC (Land Possession Certificate)
  • मालगुजारी रसीद
  • वर्तमान बैंक पासबुक

नोट:- यदि आपको एक लाख से कम के लोन बैंक आसानी से दे देता हैं। 

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) लोन लेने के लिए आपकी कम से कम आयु 18 वर्ष व अधिकतम आयु 75 वर्ष तक होना चाहिए। यदि किसी 60 साल से अधिक आयु वाले व्यक्ति को लोन लेना है उनके साथ किसी 60 साल से कम आयु के सह-उधारकर्ता (co-borrower) का होना ज़रूरी है। किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) लोन का यह व्यक्ति ले सकते हैं:

  • किसान – स्वयं या [फिर  सयुंक्त रूप (joint loan) से जिसके पास खुद की ज़मीन है,
  • किसानों के स्वयं सहायता समूह और संयुक्त देयता समूह (Joint Liability Groups) जिसमें काश्तकार, शेयर क्रापर आदि शामिल हैं।

इसे भी पढ़े :- म्यूचुअल फंड क्या है | Mutual Fund Kya Hai | म्यूचुअल फंड परिचय

कैसे मिलता है किसान क्रेडिट कार्ड लोन? How to get Kisan Credit Card Loan

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) योजना के तहत लोन लेना काफ़ी आसान है। आप इसके लिए ऑनलाइन व ऑफलाइन भी आपके बैंक की ब्रांच में जा कर आवेदन कर सकते हैं। इन दोनों तरीकों के माध्यम से KCC Loan के लिए आवेदन कर सकते। आवेदन  करने के लिए नीचे पढ़ सकते हैं |

किसान क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) योजना के तहत लोन देने वाले बैंकों में कुछ बैंक ऐसे हैं जो किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन भी लेते हैं।

KCC लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए ये तरीका अपना सकते हैं :- 

  • सबसे पहले बैंक की वेबसाइट पर जाएँ।
  • वेबसाइट पर दी गयी ऑप्शन  की सूचि में से ‘किसान क्रेडिट कार्ड’ को चुनें और  अप्लाई बटन पर क्लिक करें, और आगे बढे।
  • वहाँ से आपके सामने किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) ऑनलाइन एप्लीकेशन पेज खुल जायेगा।
  • इसके बाद फॉर्म में सारी ज़रूरी जानकारी भरने के बाद सबमिट करें।
  • फॉर्म भरने के बाद आपके ई मेल आ डी और आपके दिए गए मोबाइल नंबर पर आपको एक आवेदन नंबर (reference number) मिलेगा।
  • यही मोबाइल नंबर आपको बैंक से होने वाली Kisan Credit Card सम्बन्धी  सभी बातचीत और मेसेज में काम आयेगा।

बैंक आपकी एलिजिबिलिटी (eligibility) चेक करता है और 5 से 7 दिन में आपकी एप्लीकेशन को प्रोसेस कर देता है। इसके बाद आपके पास बैंक से फ़ोन आता है व आपको आगे के स्टेप्स के बारे में बताते है। आपको एप्लीकेशन प्रोसेस करने के लिए ज़रूरी डाक्यूमेंट्स की जानकारी दी जाती है व डॉक्यूमेंट बैंक में जमा करने के लिए बोला जाता है। पूरी जांच (verification) व बाकी फॉर्मेलिटी (formality) होने के बाद आपका बैंक में KCC लोन खाता खुल जाता है, लोन की राशि आपके खाते में आ जाती है व आपके दिए एड्रेस पर किसान क्रेडिट कार्ड पोस्ट के माध्यम से पहुँचाया जाता है।

इसे भी पढ़े :-  निवेश किसे कहते हैं | निवेश के प्रकार | Investment Kya Hai | Investment Types | How to Start Invest & Benefit

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC):- के लिए ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको  बैंक के किसी नजदीकी शाखा में जाना होता है। वहाँ KCC एप्लीकेशन फॉर्म भर कर ज़रूरी कागजात के साथ जमा करना होता है। इसके बाद बैंक पूरी जांच के बाद आपका लोन पास कर देता है। किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) फॉर्म पीडीऍफ़ (pdf)आप नीचे दिए बटन से भी डाउनलोड कर सकते हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से कितना रुपया तक लोन मिल सकता हैं ?

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) के अंतर्गत मिलने वाले लोन कि कोई पूर्व निर्धारित सीमा नहीं होती है। यह बैंक द्वारा निर्धारित किया जाता है कि वह KCC के तहत कितना लोन देंगे। कई बैंकों द्वारा तो यह लोन करोड़ों में प्रदान किया जाता है। लोन कि सीमा (Kisan Credit Cardloan limit) को कृषि से आपकी कुल आय के आधार पर और आपके पहले से लिए लोन आदि के आधार पर किया जाता है। अगर लोन की राशि 1 लाख से अधिक है तो आवेदनकर्ता को उसकी ज़मीन या फ़सल गिरवी रखनी पद सकती है।

इसे भी पढ़े :- आईपीओ क्या है || आईपीओ क्या होता हैं || IPO Kya Hai || IPO Kya Hota Hai

किसान क्रेडिट कार्ड की ब्याज दर क्या होती हैं?

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) की ब्याज दरें लोन देने वाले बैंक पर निर्भर करता है। KCC के अंतर्गत 2 तरीके के लोन मिलते हैं : छोटे समय (short term) के लिए व लम्बे समय (long term) के लिए मिलने वाले लोन। Kisan Credit Card लोन की ब्याज दरें (interest rate) इस पर भी निर्भर करती है की आप इनमें से कौनसा लोन ले रहे हैं।

ब्याज आपको उसी राशि पर देना होता है जितनी राशि आप किसान क्रेडि कार्ड (KCC) द्वारा निकालते या खर्च करते हैं। उदहारण के तौर पर अगर आपको Kisan Credit Card लोन 5 लाख का मिला है और आप मात्र 2 लाख रुपए ही खर्च करते है तो आपको केवल खर्च की गयी राशि जो की 2 लाख है, उसी पर ब्याज देना होता है ना कि 5 लाख पर देना होगा।

कुछ मुख्य प्रचलित बैंकों द्वारा ली जाने वाली किसान क्रेडिट कार्ड ब्याज दरें (KCC interest rates) कुछ इस प्रकार से है:

Bank Short Term Loan Long Term Loan
Axis Bank 8.85% – 13.10% 8.85% – 14.10%
PNB (Punjab National Bank)* 7% बेस रेट + 2%
State Bank of India 7% – 13.30% 11.30% – 16.55%
Bank of Baroda 7% – 10.9% 11.65% से शुरू

 

यदि आप सही समय पर लोन का भुगतान करते रहते हैं तो कुछ बैंक आपको ब्याज पर 2% से 3% छूट भी देती  हैं।।

*PNB का वर्तमान बेस रेट 9.6% है।
**अधिकतर 7% ब्याज दर 3 लाख रुपए तक के लोन पर लागू होती है। ऊपर दी गयी ब्याज दरों में बैंक कभी भी बदलाव कर सकते हैं।

इसे भी पढ़े :- IPO Me Invest Kaise Kare | How To Invest In IPO | IPO Kaise Kharide सभी जानकारी पढ़े इस आर्टिकल में।

आय प्रमाण पत्र फॉर्म यहाँ से डाउनलोड करें 2021  यहाँ क्लिक करें

जाति प्रमाण पत्र आवेदन कैसे करें 2021 यहाँ क्लिक करें

हमेशा अपडेट रहने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें। 

किसान क्रेडिट कार्ड सम्बन्धी सामान्य सवाल/जवाब  – KCC FAQ

Q. KCC की फुल फॉर्म क्या है? (What is the full form of KCC?)

Ans:- KCC की फुल फॉर्म किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) है।

Q. क्या आपको किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) के तहत बीमा मिलता है?

Ans:- KCC के तहत बीमा मिल सकता है। यह ऐच्छिक होता है व लोन आवेदनकर्ता पर निर्भर करता है कि वह बीमा लेना चाहते हैं या नहीं।

Q. किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) के तहत कितना बिमा कवर मिलता है?

Ans:- किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से आपको 50 हज़ार तक का जीवन बीमा (life insurance) व 25 हज़ार तक एक्सीडेंट कवर मिल सकता है। बीमा प्रीमियम (insurance premium) आपके बैंक द्वारा तय किया जाता है।

Q. किसान क्रेडिट कार्ड लेने के लिए मिनिमम क्वालिफिकेशन क्या होती है? KCC minimum qualification

Ans:- KCC लेने के लिए कोई मिनिमम क्वालिफिकेशन कि ज़रूरत नहीं होती। इस योजना का लाभ कोई भी किसान उठा सकते हैं। जिनके पास सभी जरुरी दास्तवेज  हो |

इसे भी पढ़े :- सभी प्रकार के पीडीफ फॉर्म यहाँ से डाउनलोड करें।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here